240 स्कूलों की मान्यता खत्म करने के मामले में अब बैकफुट पर स्कूल शिक्षा विभाग

रायपुर-स्कूल शिक्षा विभाग रायपुर के 240 स्कूलों की मान्यता खत्म करने के मामले में अब बैकफुट पर आ गया है। संचालनालय ने मान्यता खत्म करने के आदेश को रद कर बहाल कर दिया। जनवरी में रायपुर के पूर्व जिला शिक्षा अधिकारी (डीईओ) जीआर चंद्राकर ने रायपुर के 240 स्कूलों की मान्यता खत्म कर दी थी। इस आदेश को स्कूल शिक्षा विभाग के संचालक जितेंद्र शुक्ला ने निरस्त कर दिया है। मान्यता खत्म करने के आदेश को रद करते हुए संचालक ने डीईओ रायपुर को निर्देशित किया है कि मामले की जांच करके प्रतिवेदन दें। स्कूल शिक्षा विभाग ने मान्यता खत्म करने वाले आदेश को निरस्त करते हुए उल्लेख किया है कि 240 अशासकीय स्कूलों की मान्यता फीस विनियम अधिनियम 2020 के पालन न करते हुए किया गया था।

डीईओ ने यह कार्रवाई अशासकीय स्कूल प्रबंधकों को सुनवाई करने का अवसर देने से पहले ही की थी। उनका पक्ष जानना था पर एकतरफा कार्रवाई की गई है। संचालक ने आदेश में लिखा है कि अशासकीय स्कूलों का जवाब लेकर उन पर विधि सम्मत ही कार्रवाई की जा सकती है। संचालनालय के इस आदेश के बाद अशासकीय स्कूल प्रबंधकों में भारी उत्साह है।

इस आरोप पर डीईओ ने की थी कार्रवाई

पूर्व डीईओ का तर्क था कि राज्य सरकार की ओर से बनाए गए अशासकीय विद्यालय फीस विनियम अधिनियम 2020 के नियमों की अशासकीय स्कूल धज्जिायां उड़ा रहे हैं। बार-बार निर्देश देनेके बाद भी यहां पर फीस समिति का गठन नहीं किया गया। लिहाजा डीईओ ने 240 स्कूलों की मान्यता खत्म करने का आदेश जारी कर दिया था। आदेश में कहा गया था कि इन स्कूलों को सत्र 2021- 22 से दाखिला कराने का अधिकार नहीं रहेगा। डीईओ ने स्कूलों से जल्द से जल्द स्कूल के बच्चों का पंजीयन रजिस्टर, दाखिला पंजी, शिक्षा के अधिकार अधिनियम के तहत दाखिल बच्चों की सूची एवं अन्य दस्तावेज विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय में अनिवार्य रूप से जमा करने का फरमान दिया था।

वर्जन

डीईओ रायपुर ने 240 स्कूलों की मान्यता खत्म की थी, इसमें निजी स्कूल प्रबंधकों को सुनवाई का अवसर नहीं दिया गया था इसलिए मान्यता खत्म होने के आदेश को निरस्त कर दिया गया है।

  • जितेंद्र शुक्ला, संचालक, लोक शिक्षण संचालनालय
  • संचालनालय के आदेश के मुताबिक 240 निजी स्कूलों की मान्यता खत्म करने के आदेश को निरस्त कर दिया गया है।
  • एएन बंजारा, डीईओ, रायपुर

शासन का यह आदेश सभी स्कूलों के लिए राहत भरा है। हम उम्मीद करते है कि भविष्य में इस तरह से एकपक्षीय कार्रवाई नहीं की जाएगी।

  • राजीव गुप्ता, अध्यक्ष छत्तीसगढ़ प्राइवेट स्कूल मैनेटमेंट एसोसिएशन

Leave A Reply

Your email address will not be published.