राम मंदिर के लिए चंदा इकट्ठा कर रहे आरएसएस जिला संघचालक दीपक को मारी गोली, तीन आरोपी गिरफ्तार

अयोध्या में बनने जा रहे भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा इकट्ठा किया जा रहा है। इसी अभियान के तहत राजस्थान के कोटा में भी जिला संघ संचालक दीपक शाह चंदा इकट्ठा कर थे कि मंगलवार को कुछ अज्ञात लोगों ने उन्हें गोली मार दी। कुछ लोगों ने दीपक शाह को चंदा इकट्ठा पर रोक लगाने की चेतावनी दी थी लेकिन दीपक शाह ने यह काम नहीं रोका।

ये घटना कोटा के रामगंज मंडी की है। इस घटना पर तीन आरोपियों को झालवाड़ से गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं दीपक शाह को कोटा के एमबीएस अस्पताल में भर्ती कर दिया गया है। इस हमले के दौरान दीपक शाह को एक गोली पैर में तो दूसरी गोली जांघ पर लगी है। यह घटना देर रात की है.

जिला संघ संचालक दीपक शाह को गोली मारने के बाद आरोपी झालवाड़ की तरफ भागे। कोटा ग्रामीण पुलिस ने उनका पीछा किया और पकड़ लिया। पुलिस ने घटना की जानकारी देते हुए कहा कि जिला संघ संचालक दीपक शाह राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा इकट्ठा करने शाम 6-7 बजे निकले थे। 

इसी बीच तीन बदमाश बाइक पर सवार होकर आए और दीपक शाह पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। इस हमले में एक गोली दीपक शाह को पैर पर तो दूसरी गोली जांघ पर लगी। पुलिस ने बताया कि कुछ दिन पहले दीपक शाह को एक हिस्ट्रीशीटर ने धमकी दी थी। दीपक शाह ने इसकी शिकायत पुलिस में की थी। 

इस हिस्ट्रीशीटर का नाम आशु पाया बताया जा रहा है। शाम को दीपक शाह जब चंदा इकट्ठा करने निकले तो आशु पाया ने अपने साथियों के साथ मिलकर दीपक शाह पर गोलीबारी की। फिलहाल दीपक की हालत सामान्य है, बुधवार को पुलिस ने इलाके में फ्लैग मार्च भी निकाला। इस घटना के बाद से रामगंज मंडी में हड़कंप मच गया था और घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस की तैनाती और बढ़ा दी है। 

Leave A Reply

Your email address will not be published.