भारतीय रिजर्व बैंक;ATM से 5000 रुपए से ज्यादा निकालने पर लग सकता है इतने रुपए का चार्ज..

भारतीय रिजर्व बैंक-जो लोग एटीएम का अधिक इस्तेमाल करते हैं, यह खबर उनके लिए जरूरी है। हो सकता है कि आने वाले दिनों में पांच हजार रुपए से अधिक की राशि निकालने पर चार्ज देना पड़े। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया यानी आरबीआई इस पर विचार कर रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह पांच मुफ्त ट्रांजैक्शन में शामिल नहीं होगा। माना जा रहा है कि एटीएम से एक बार में पांच हजार की निकासी पर बैंक ग्राहक से 24 रुपए शुल्क वसूल सकता है। मौजूदा व्यवस्था के तहत अभी पांच ट्रांजैक्शन फ्री हैं। इसके बाद 20 रुपए प्रति ट्रांजैक्शन लगते हैं।

खबर यह है कि आरबीआई ने एटीएम शुल्क पर पुनर्विचार के लिए एक कमेटी गठित की थी। इस कमेटी ने ही सिफारिश की है कि यदि कोई ग्राहक एटीएम से एक बार में पांच हजार रुपए से अधिक निकालता है तो उससे चार्ज वसुला जाए। कवायद यही है कि लोग अपना अधिक से अधिक लेनदेन ऑनलाइन करें। यदि समिति की सिफारिशें मान ली जाती हैं तो करीब 8 साल बाद एटीएम से जुड़े नियमों में यह अहम बदलाव होगा। जानकारी के मुताबिक, आरबीआई चाहता है कि बड़े शहरों में एटीएम का चलन कम किया जाए। लोग केवल पैसा जमा करने के लिए एटीएम का इस्तेमाल करें। वहीं छोटे शहरों में एटीएम बढ़ाए जाएंगे। ये छोटे शहर वो होंगे जहां आबादी 10 लाख रुपए से कम है।

छोटे शहरों और गांवों पर फोकस रखते हुए ही समिति ने छोटे ट्रांजैक्शन फ्री रखे हैं। नियम नियमों के मुताबिक, इन शहरों और गावों में ग्राहक को एटीएम से छह बार राशि निकालने की छूट होगी। अभी यह सुविधा पांच बार ही उपलब्ध है।

गांव में सरकारी राशन की दुकान में लगेगा ATM

इसी महीन आई एक रिपोर्ट से साफ है कि आरबीआई का पूरा ध्यान अब ग्रामीण क्षेत्रों पर है। रिपोर्ट के मुताबिक, सरकारी और प्राइवेट बैंक अब ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग सुविधाओं को बढ़ाने पर विचार कर रहे हैं। ग्रामीण लोगों को अब 10,000 रुपए तक के लेनदेन के लिए बैंक तक जाने की जरूरत नहीं होगी, उनके लिए इसकी व्यवस्था गांव के पीडीएस राशन केंद्रों (PDS Ration Shops) पर ही उपलब्ध कराई जा रही है। सरकार राशन की दुकान पर लगी ई-पास मशीन में मिनी ATM की व्यवस्था करने जा रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.