भूत-प्रेत के चक्कर में मां-बाप और बेटी की हत्या आरोपी गिरफ्तार

रांची-झारखंड की राजधानी रांची के सोयको थाना क्षेत्र के कुदा गांव में पिछले 21 दिनों से लापता तीन लोगों की लाश बुधवार को पुलिस ने बरामद किया है। तीनों शवों की पहचान बिरसा मुंडा, उसकी पत्नी सुकरू पूर्ति और बेटी सोमवारी पूर्ति के रूप में हुई है। तीनों के शव रबा नदी झरना के पास से क्षत-विक्षत अवस्था में मिले हैं।

एसडीपीओ आशीष कुमार महली के अनुसार डायन-बिसाही को लेकर तीनों की हत्या की गयी है। तीनों के सिर धड़ से अलग करने के बाद शवों एक ही गड्ढे में दफना दिया गया था। एसडीपीओ के मुताबिक वारदात को 15 लोगों ने मिल कर अंजाम दिया है।इनमें से तीन आरोपियों सोमा मुंडा, रघु मुंडा और विश्राम मुंडा को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं, अन्य आरोपियों की पहचान के लिए छापेमारी की जा रही है। एसडीपीओ ने बताया कि कुदा गांव में एक महिला मां बनी और कुछ दिनों बाद उसकी मौत हो गयी।

उसकी मौत के बाद बिरसा मुंडा और उसकी पत्नी पर डायन होने का आरोप लगाया गया था।इसमें एक ओझा भी शामिल था। पुलिस उसकी भी तलाश कर रही है। ज्ञात हो कि बिरसा मुंडा, पत्नी और बेटी कुदा गांव से सात अक्तूबर से लापता थे। इस संबंध में 12 अक्तूबर को बिरसा मुंडा की दूसरी बेटी तेलानी के बयान के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की गयी थी।तेलानी के अनुसार कुछ लोगों ने सात अक्तूबर की रात बिरसा मुंडा और उसकी पत्नी और बेटी का अपहरण कर लिया था। पुलिस को आशंका है कि दंपती और बेटी की हत्या उसी दिन कर दी गयी थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.