कोरोना की वजह से जिले में आगे नहीं बढ़ेगा लॉकडाउन..

भूपेश मांझी/महासमुंद– जिले में कोरोना वायरस संक्रमण (कोविड-19) की रोकथाम, नियंत्रण एवं चेन को तोड़ने हेतु इस माह की 23 तारीख़ से आज बुधवार 30 सितम्बर तक एक सप्ताह तक सम्पूर्ण जिला महासमुंद क्षेत्र को कंटेनमेंट ज़ोन ( लाकडाउन) घोषित किया था । जिसे आज जिला महासमुंद में जनता के आवागमन और व्यवसायिक गतिविधियों पर जारी प्रतिबंधों को जिला प्रशासन के द्वारा शिथिल किया गया है। जिले में सभी सरकारी कार्यालय शासन द्वारा निर्धारित समयावधि में संचालित होंगे ।

दुकानें और व्यवसायिक गतिविधियां सामान्य दिनो की तरह ही शुरू होकर रात्रि 8 बजे तक संचालित की जा सकेंगी। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री कार्तिकेया गोयल ने इस बाबत आदेश जारी कर दिया है। उन्होने कहा है कि जिला महासमुंद में जनमानस की कोविड संक्रमण से सुरक्षा को देखते हुए दुकान और व्यवसायिक गतिविधियां रात्रि 8 बजे तक ही संचालित होंगी। पेट्रोल पम्प और मेडिकल दुकानें अपने निर्धारित समयावधि तक संचालित किये जा सकेंगे। विदित हो कि कोरोना वायरस के बढते संक्रमण को रोकने के लिये महासमुंद जिला अन्तर्गत सम्पूर्ण क्षेत्र में इस माह की 23 तारीख़ से 30 सितम्बर (एक सप्ताह) तक कंटेन्मेंट जोन घोषित किया गया है । घोषित लॉकडाउन की अवधि आज बुधवार 30 सितम्बर की मध्यरात्रि को समाप्त होगी।
हालांकि 1 अक्टूबर से जिले की सभी दुकानें रात 8 बजे तक खुलेगी मगर दुकान संचालकों को कोरोना संक्रमण के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग की गाइडलाइन का पालन करना जरूरी होगा। इस दौरान पूर्व की तरह मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजर सहित अन्य जरूरी चीजों को रखना जरूरी होगा।

लाॅकडाऊन की शुरूआत से पूर्व जंहा दुकान संचालन की अनुमति सायं 7 बजे तक थी उसमें 1 घंटे की वृद्धि करते हुए संचालन की अवधि को रात्रि 8 बजे तक किया गया है। कलेक्टर ने लोगों से कोरोना नाम की महामारी से बचने के लिए बेवजह अपने घर न निकलने की अपील की है। इस संवेदनशील समय में कलेक्टर ने जिले वासियो के सहयोग और धैर्य की तारीफ की है।
मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ आर के परदल ने जनता से अपील की है कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिये अनिवार्य रूप से मास्क का प्रयोग करें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करके ही संक्रमण को रोका जा सकता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.