भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट, अभी और पड़ेगी हाड़ कपाने वाली ठंड चलेगी शीतलहर

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ( IMD) ने उत्तरी मैदानी क्षेत्रों में अगले 4 दिनों के लिए शीतलहर के के साथ ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में न्यूनतम तापमान गिरकर दो डिग्री सेल्सियस हो जाने के कारण लोगों का जनजीवन प्रभावित हुआ है। आप भी जानिए 15 से 17 जनवरी से बीच मौसम कैसा रहेगा क्योंकि मौसम विभाग की तरफ से ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

अभी नहीं मिलेगी शीतलहर से राहत राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश समेत दिल्ली के कुछ हिस्सों में शीत लहर का प्रकोप बने रहने की संभावना है। उत्तर-पश्चिमी ठंडी हवाओं का प्रभाव अब पूर्वी भारत के भागों में दिखने लगा है, जिससे तापमान में 1 या 2 डिग्री की गिरावट आई है। पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार के कुछ हिस्सों में भी शीत लहर चल रही है। मौसम विभाग ने उत्तर भारत में 15 से 17 जनवरी तक के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। इस बीच कई इलाकों में हाड़ कंपानेवाली ठंड पड़ सकती है।

दिल्ली में और गिर सकता है पारा मौसम विभाग का कहना है कि दिल्ली के लोगों को ठंड से अभी राहत नहीं मिलने वाली है और आने वाले दिनों में दिल्ली के पारे में और गिरावट देखने को मिल सकती है। मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक, अगले दो दिनों तक ठंड से राहत मिलने के कोई आसार नहीं हैं बल्कि ठंड का कहर और बढ़ भले सकता है। आईएमडी ने बताया कि शुष्क मौसम और उत्तर, उत्तरपश्चिम हवाओं की वजह से देश के उत्तर-पश्चिम हिस्सों के ज्यादातर इलाकों में अगले तीन-चार दिन तक न्यूनतम तापमान सामान्य से कम रहने की संभावना है। मौसम विभाग ने अगले कुछ दिनों के लिए शीतलहर चलने की चेतावनी जारी की है।

यूपी में मौसम विभाग ने जारी किया शीतलहर का ऑरेंज अलर्ट बर्फीली हवा के साथ फिजा में घुली गलन से उत्तर प्रदेश के ज्यादातर इलाके गुरुवार को जबरदस्त ठिठुरन भरी सर्दी की चपेट में रहे। मौसम विभाग ने पश्चिमी यूपी से लेकर तराई के जिलों में भीषण शीतलहर का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। सहारनपुर, शामली, मुजफ्फरनगर, मेरठ, अलीगढ़, बिजनौर, अमरोहा, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, पीलीभीत, शाहजहांपुर, बहराइच, श्रावस्ती हरदोई, गोण्डा, बस्ती, संतकबीरनगर और गोरखपुर में बेहद ठंडे दिन की चेतावनी जारी की गयी है। अगले 24 घंटे में इन शहरों में शीतलहर के कारण दिन का तापमान और गिर सकता है। इसके अलावा मौसम विभाग ने ऊपर लिखे शहरों के साथ साथ बाराबंकी और कानपुर में घने कोहरे का भी अलर्ट जारी किया है।

अगले 24 घंटे के दौरान राज्य के कुछ इलाकों में जबरदस्त शीतलहर चलने की संभावना है। कुछ स्थानों पर घना कोहरा भी गिर सकता है। इस अवधि में राज्य में मौसम आमतौर पर सूखा रहने का अनुमान है। आंचलिक मौसम केंद्र के निदेशक जे पी गुप्ता ने बताया कि अभी मौसम के ऐसे तल्ख मिजाज एक-दो दिन और बने रह सकते हैं। इस दौरान गलन और ठिठुरन भरी सर्दी बरकरार रहेगी। हालांकि उसके बाद तापमान में एक से दो डिग्री सेल्सियस की बढ़ोत्तरी होगी। इससे सर्दी से मामूली राहत मिल सकती है।

श्रीनगर में रात के तापमान ने तोड़ा 25 साल का रिकॉर्ड जम्मू-कश्मीर में चिल्लई-कलां तेज ठंड) का असर है। कश्मीर घाटी में तापमान माइनस 7.8 आने से डल झील जम गई है, इससे झील पर शिकारों का चलना कम हो गया है। सिर्फ काम के शिकारे ही चल पा रहे हैं, क्योंकि उन्हें बर्फ तोड़नी पड़ रही है। गुलमर्ग में -11 डिग्री तापमान तो लद्दाख में -20 डिग्री पर पारा पहुंच चुका है। ठंड को लेकर मौसम विभाग ने नया अलर्ट जारी किया है। कश्मीर घाटी में अगले 48 घंटे बहुत अहम हैं। मौसम विभाग के मुताबिक जम्मू कश्मीर में बने वेदर पैटर्न के मुताबिक 20 जनवरी तक नई बर्फबारी के आसार नहीं हैं। लिहाजा दिन का तापमान तो बढ़ेगा लेकिन रात के तापमान में कई डिग्री की गिरावट आएगी। श्रीनगर शहर में गुरुवार को न्यूनतम तापमान माइनस 8.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। शहर के इतने कम तापमान ने पिछले 25 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

मौसम अधिकारियों ने बताया कि इससे पहले 1995 में शहर का न्यूनतम तापमान माइनस 8.3 डिग्री दर्ज किया गया था। बता दें कि प्रदेश में 40 दिनों की भीषण ठंड की अवधि ‘चिल्लई कलां’ चल रही है, जो कि 31 जनवरी को खत्म होगी। जम्मू शहर का न्यूनतम तापमान 5.9 डिग्री, कटरा में 4.8 डिग्री, बटोटे में 6.1 डिग्री, बेनिहाल में 6.2 डिग्री और भद्रवाह में 0.3 डिग्री रहा।

पंजाब में अगले 4 दिन पड़ेगी कड़ाके की सर्दी, गिरेगा पाला मौसम विभाग ने पंजाब में अगले पांच दिन कड़ाके की सर्दी पड़ने का अनुमान जताया है। दिन का पारा औसतन 4-5 डिग्री कम चल रहा है। दिन में उत्तरी व उत्तर-पश्चिमी हवाएं चलेंगी। इस कारण शीतलहर चुनौती देगी। रात को खुले इलाकों और हाईवे पर पाला गिरेगा। मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि उत्तर से सूखी व सर्द हवा के आने से तापमान में गिरावट हो रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.