पुलिस महानिदेशक डी एम अवस्थी ने ली रायपुर जिले के अपराधों की समीक्षा बैठक

भूपेश मांझी/रायपुर-पुलिस महानिदेशक डी एम अवस्थी ने आज रायपुर जिले के अपराधों की समीक्षा बैठक ली। बैठक में अवस्थी ने कहा कि राजधानी रायपुर की पुलिस का जोर बेसिक, इम्पेक्टफुल और विजिबल पुलिसिंग पर होना चाहिये। प्रदेश भर में रायपुर पुलिस की कार्यशैली और अपराधियों पर कार्यवाही अनुकरणीय होनी चाहिये। उन्होंने कहा कि आदतन अपराधी और गुण्डे-बदमाशों की लिस्ट बनाकर सख्ती से कार्यवाही करें। गुण्डे-बदमाशों में पुलिस का भय और आमजन में पुलिस के प्रति विश्वास होना चाहिये।

बैठक में डीजीपी ने पुलिस पेट्रोलिंग बढ़ाने के निर्देश दिये और कहा कि सट्टा, जुआ, अवैध शराब पर छापामार कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि महिला विरूद्ध अपराधों पर प्राथमिकता से कार्यवाही करें। अपराधों को रोकने और अपराधियों पर सख्त कार्यवाही के लिये एक्शन प्लान बनाकर कार्य करें। अपराधियों पर सख्त और त्वरित कार्यवाही करें, जिससे आमजन को पुलिसिंग होती हुई दिखायी दे। श्री अवस्थी ने कहा कि रायपुर पुलिस ने पिछले 11 माह में कई बड़े मामले सफलतापूर्वक सुलझाये हैं एवं लगभग सभी अपराधी पकड़े गये हैं।

उन्होंने यातायात पुलिस को निर्देश दिये कि वाहन चेकिंग के दौरान गुण्डे-बदमाश प्रवृत्ति के लोगों पर भी नजर रखें एवं कार्यवाही करें। डीजीपी ने कम्युनिटी पुलिसिंग पर जोर देते हुए कहा कि आमजन एवं पुलिस के बीच लगातार संवाद स्थापित होते रहना चाहिये। इसके लिये फ्रेण्ड्स ऑफ पुलिस बनाकर अच्छे लोगों को पुलिस से जोड़कर अपराधों की रोकथाम में मदद मिल सकती है। बैठक में पुलिस महानिरीक्षक डॉ. आनंद छाबड़ा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव, उप पुलिस महानिरीक्षक सीआईडी हिमानी खन्ना, सहायक पुलिस महानिरीक्षक राजेश अग्रवाल एवं रायपुर जिले के सभी पुलिस अधिकारी उपस्थिति रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.