छत्तीसगढ़ के अंतिम छोर सराईपाली के आदित्य को प्रदेश का प्रतिनिधित्व करने का अवसर प्राप्त हुआ

भूपेश मांझी/सरायपाली-विश्व मछुआरा दिवस के उपलक्ष में छत्तीसगढ़ के ओजस्वी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के मुख्यमंत्री निवास में मछुआरा दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया, उक्त कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के कोने-कोने से मछुआरा अपने अपने क्षेत्र से उपस्थित हुए ,तथा छत्तीसगढ़ मछुआरा कहरा समाज का प्रतिनिधित्व आर. एन. आदित्य अधिवक्ता सरायपाली के द्वारा किया गया। छत्तीसगढ़ कहरा समाज की ओर से छत्तीसगढ़ के ओजस्वी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी को प्रतीक चिन्ह के रूप में मुख्यमंत्री जी का तस्वीर भेंट आर. एन. आदित्य अधिवक्ता सरायपाली के द्वारा किया ।

यह अपने क्षेत्र के लिए बहुत ही गौरव की बात है,कि सराईपाली जो छत्तीसगढ़ के अंतिम छोर में स्थित है, यहां के व्यक्ति आदित्य अधिवक्ता को छत्तीसगढ़ प्रदेश का प्रतिनिधित्व करने का अवसर प्राप्त हुआ, उक्त कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सम्मानित भूपेश बघेल जी, तथा अध्यक्षता करते हुए मत्स्य पालन एवं कृषि मंत्री रविंद्र चौबे जी, विशिष्ट अतिथि के रूप में गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू जी, साथ ही साथ मछुआरा समुदाय की ओर से गुंडरदेही के विधायक एवं संसदीय सचिव सम्मानिय कुंवर निषाद जी, तथा मछुआ कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष एम.आर .निषाद जी एवं कसडोल के विधायक एवं संसदीय सचिव शकुंतला साहू जी, तथा खनिज विकास निगम के अध्यक्ष गिरीश देवांगन जी के साथ साथ विधायक एवं संसदीय सचिव विकास उपाध्याय जी मुख्य पर उपस्थित रहे ,आज मछुआरों के हित में सम्मानीय मुख्यमंत्री जी ने अनेक सौगात मछुआरों को दिया, तथा मछुआ नीति को भी जल्द से जल्द छत्तीसगढ़ में लागू करने की बात कही।

Leave A Reply

Your email address will not be published.